हमे क्यु धारण करना चाहिए कोसा वस्र ?

हमे क्यु धारण करना चाहिए कोसा वस्र ?

छत्तीसगढ़ के कोसा के वस्र विश्व प्रसिद्ध हैं, विशेषकर रायगढ़ व चाम्पा की साड़ियां अपनी गुणवत्ता व विशिष्ट डिजाईन के कारण जाने जाते हैं, यहां के उत्पादित वस्रों की मांग भारत ही नही बल्कि पुरी दुनिया मे है।कोसा एक ऐसा सदाबहार फेब्रिक है जो न सिर्फ महिलाओं की पहली पसंद है, बल्कि पुरूषों मे भी ईसका आकर्षण कम नही है.

हमे कोसा वस्र क्यु धारण करना चाहिए?

  • कोसा जैसी गरिमा, लावण्य और खूबसूरती किसी और कपड़े मे नही है।
  • कोसा वस्र बहुत मजबूत व लंबे समय तक चलने वाला वस्र है। प्रत्येक धुलाई के बाद इसकी चमक बढ़ती जाती है, कभी पुराने नही होते।
  • कोसा वस्र शरीर के अनुकूल होते हैं, यह गर्मी और सर्दी दोनो मौसम मे पहने जा सकते हैं।
  • इनको पहनने से स्किन को कोई एलर्जी नही होती, जिनकी त्वचा संवेदनशील होती है वह भी धारण कर सकते हैं ।
  • बाकी अन्य रेशमों की तुलना मे इनको अधिक देखभाल की आवश्यकता भी नही होती।
  • कोसा वस्रों को बहुत पवित्र माना जाता है। कोसा वस्रों पर जल्दी आग नही लगती, इसपर लगी आग फैलती भी नही है, अन्य सिंथेटिक कपड़ों की तरह जलने पर यह शरीर से चिपकती भी नही है। महिलाओं द्वारा रसोई बनाते समय पहनने योग्य अनुकूल वस्र है।
  • यह मुख्यतः वनों पर आधारित ऊपज है, कोसा वस्र उत्पादन मे किसी प्रकार के मशीनों व कारखाने की आवश्यकता नही होती, अतः किसी प्रकार का प्रदुषण नही होता अपितु पर्यावरण का संरक्षण होता है

Leave a Reply