शिवरीनारायण में राम वन गमन पर्यटन परिपथ के कार्यों का लोकार्पण 10 अप्रैल को

शिवरीनारायण में राम वन गमन पर्यटन परिपथ के कार्यों का लोकार्पण 10 अप्रैल को

छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा राम वन गमन पथ से जुड़े ऐतिहासिक, पुरातात्विक एवं धार्मिक महत्व के स्थलों को सुव्यवस्थित और पर्यटन की दृष्टि से विकसित करने के लिए राम वन गमन परिपथ परियोजना तैयार की गई है। इसके तहत प्रथम चरण में 75 स्थानों का चिन्हांकन कर 9 प्रमुख स्थलों को विकसित किया जा रहा है। मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल आगामी 10 अप्रैल को जांजगीर जिले के शिवरीनारायण प्रवास के दौरान वहां राम वन गमन परिपथ के अंतर्गत निर्मित विभिन्न कार्यों का लोकार्पण करेंगे।

राम वन गमन परिपथ के तहत शिवरीनारायण में निर्माणाधीन विभिन्न विकास कार्यों का जायजा आज संस्कृति विभाग के सचिव श्री अन्बलगन पी. ने लिया। उन्होंने इस संबंध में जिला कलेक्टर और निर्माण कार्यों से जुड़े विभिन्न विभागों के अधिकारियों की बैठक ली और निर्माणाधीन कार्यों को जल्द पूर्ण करने के निर्देश दिए। श्री अन्बलगन ने शिवरीनारायण में रामायण मंडलियों के राज्य स्तरीय मानस गायन प्रतियोगिता की रूपरेखा तैयार करने के संबंध में आवश्यक निर्देश दिए। बैठक की अध्यक्षता महंत श्री राम सुंदर दास ने की। कार्यक्रम की तैयारियों को लेकर उन्होंने कहा कि इस राज्य स्तरीय प्रतियोगिता के लिए देश-प्रदेश के प्रतिष्ठित कलाकार भी शामिल होंगे। इस अवसर पर आयोजन स्थल पर बैठक, पंडाल, पेयजल, पार्किंग आदि की बेहतर व्यवस्था होनी चाहिए।

बैठक में कलेक्टर जांजगीर-चांपा श्री जितेंद्र कुमार शुक्ला, एसपी जांजगीर श्री अभिषेक पल्लव, प्रबंध संचालक छत्तीसगढ़ टूरिज्म बोर्ड श्री अनिल कुमार साहू, संचालक संस्कृति एवं पुरातत्व श्री विवेक आचार्य, राम वन गमन पर्यटन परिपथ की नोडल अधिकारी श्रीमती अनुराधा दुबे समेत अधिकारी एवं जनप्रतिनिधि उपस्थित थे।