रायपुर : मुख्यमंत्री युवा कैरियर निर्माण योजना अंतर्गत कोचिंग ले रहे विद्यार्थियों ने नीट और जेईई परीक्षा में हासिल की उल्लेखनीय सफलता

रायपुर : मुख्यमंत्री युवा कैरियर निर्माण योजना अंतर्गत कोचिंग ले रहे विद्यार्थियों ने नीट और जेईई परीक्षा में हासिल की उल्लेखनीय सफलता

मुख्यमंत्री युवा कैरियर निर्माण योजना के तहत् मेडिकल एवं इंजीनियरिंग महाविद्यालियों में प्रवेश के लिए निःशुल्क कोचिंग ले रहे बिलासपुर जिले के अनुसूचित जाति और जनजाति वर्ग के ड्रॉपर विद्यार्थियों ने इस वर्ष नीट और जेईई परीक्षाओं में उल्लेखनीय सफलता हासिल की है। जिले के मेडिकल कॉलेजों में प्रवेश के लिए 68 विद्यार्थियों ने नीट परीक्षा क्वालीफाई किया है वहीं जेईई मेन्स परीक्षा में 8 और जेईई एडवांस परीक्षा में 4 विद्यार्थी क्वालीफाई हुए। अनुसूचित जाति और जनजाति वर्ग के विद्यार्थी जो डॉक्टर एवं इंजीनियर बनकर अपने सपनों को पूरा करना चाहते है, लेकिन गरीबी की वजह से वे अच्छे कोचिंग संस्थाओं में प्रवेश नहीं ले पाते है उनके लिए छत्तीसगढ़ शासन द्वारा मुख्यमंत्री युवा कैरियर निर्माण योजनांतर्गत निःशुल्क कोचिंग की व्यवस्था की जा रही है।

वर्ष 2020 की नीट परीक्षा के लिए निःशुल्क कोचिंग लेने वाले बिलासपुर के अनुसूचित जाति एवं जनजाति वर्ग के 83 विद्यार्थियों ने यह परीक्षा दी थी, जिनमें 68 विद्यार्थी क्वालीफाईड हुये। इनमें से 29 विद्यार्थियों की रैकिंग के आधार पर उनका शासकीय मेडिकल एवं दंत चिकित्सा महाविद्यालयों में प्रवेश अपेक्षित है। इसी तरह 13 विद्यार्थी जो इंजीनियरिंग के लिए निःशुल्क कोचिंग ले रहे थे उनमें से 8 विद्यार्थियों ने जेईई मेन्स परीक्षा में क्वालीफाई किया है। इनमें अनुसूचित जनजाति वर्ग के 5 और अुनसूचित जाति वर्ग के 3 विद्यार्थी शामिल है। जेईई एडवांस परीक्षा में 6 विद्यार्थी शामिल हुये जिनमें से 4 विद्यार्थी क्वालीफाई हुए। इनमें अनुसूचित जनजाति वर्ग के  3 और अनुसूचित जाति वर्ग का 1 विद्यार्थी शामिल है।