रायपुर : श्रम मंत्री डॉ. शिवकुमार डहरिया की अध्यक्षता में छत्तीसगढ़ भवन एवं अन्य सन्निर्माण कर्मकार संचालक मंडल की बैठक संपन्न

रायपुर : श्रम मंत्री डॉ. शिवकुमार डहरिया की अध्यक्षता में छत्तीसगढ़ भवन एवं अन्य सन्निर्माण कर्मकार संचालक मंडल की बैठक संपन्न

श्रम मंत्री डॉ. शिवकुमार डहरिया की अध्यक्षता में आज नवा रायपुर में छत्तीसगढ़ भवन एवं अन्य सन्निर्माण कर्मकार संचालक मंडल की बैठक आयोजित की गई। उन्होंने कहा कि कोरोना महामारी के प्रति लोगो को जागरूक करने के लिए व्यापक प्रचार-प्रसार भी किया जाए। बैठक में संचालक मंडल द्वारा मंडल कार्यालय और जिला कार्यालयों में कार्यरत कर्मचारियों के पारिश्रमिक दर मेे भी वृद्वि करने का निर्णय लिया गया।

बैठक में यह भी निर्णय लिया गया कि कोविड-19 के कारण उत्पन्न लॉकडाउन की स्थिति में बहुत से प्रवासी श्रमिक छत्तीसगढ़ लौटे हैं। श्रम विभाग द्वारा इन मजदूरों को तात्कालिक व्यवस्था के तौर पर रोजगार उपलब्ध कराने के लिए अस्थाई रूप से श्रमिक कार्ड बनाये गए है। जिसे एक वर्ष अवधि तक के लिए वृद्वि किया गया है। कोरोना वायरस (कोविड-19) से संक्रमण के रोकथाम एवं नियंत्रण के लिए प्रवासी श्रमिकों के राज्य से बाहर जाने एवं राज्य के बाहर से छत्तीसगढ़ आने वाले प्रवासी श्रमिकों पर निगरानी रखने के भी निर्देश अधिकारियों को दिए।

संचालक मण्डल की बैठक में मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल की घोषणा के अनुसार श्रमिकों के मृत्यु एवं दिव्यांग सहायता योजना के तहत मृत्यु होने पर एक लाख रूपए और अपंगता की स्थिति में पचास हजार रूपये अनुदान दिए जाने की योजनाओं का भी अनुमोदन किया गया। इसके साथ ही मंडल की बजट संबंधी आय-व्यय पर चर्चा की गई। बैठक में विश्वकर्मा दुर्घटना योजना के संबंध में चर्चा की गई। मंत्री डॉ. डहरिया ने पंजीकृत श्रमिकों को जो पात्र हैं, परीक्षण कर योजना का लाभ देने के निर्देश अधिकारियों को दिए।

बैठक में यह भी निर्णय लिया गया कि योजनाओं के बेहतर क्रियान्वयन के लिए हितग्राहियों को प्रदान की जाने वाली सुरक्षा किट्, सायकिल, सिलाई मशीन, श्रमिक औजार आदि सामग्रियों की खरीदी के लिए मंडल द्वारा गठित समिति द्वारा की जाएगी। इस मौके पर मण्डल के सदस्य श्री महेश शर्मा, श्री सतीश अग्रवाल, श्रम विभाग के सचिव श्री अन्बलगन पी., छत्तीसगढ़ भवन एवं अन्य सन्निर्माण कर्मकार मंडल के सचिव श्री राजेश पात्रे, वित्त विभाग के प्रतिनिधि श्री ए.के. पाण्डेय, जल संसाधन विभाग के प्रतिनिधि श्री आर.के. खन्ना, नगरीय प्रशासन एवं विकास विभाग के चीफ इंजीनियर श्री भागीरथी वर्मा, श्रम विभाग के प्रतिनिधि श्री एस.एल.जॉगडे सहित अन्य संबंधित वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।