छत्तीसगढ़ में 3 नए मेडिकल कॉलेज कोरबा, महासमुंद और कांकेर में स्थापित करने की प्रस्ताव को मिली भारत सरकार की मंजूरी

छत्तीसगढ़ में 3 नए मेडिकल कॉलेज कोरबा, महासमुंद और कांकेर में स्थापित करने की प्रस्ताव को मिली भारत सरकार की मंजूरी

कोरबा. छत्तीसगढ़ में 3 नए मेडिकल कॉलेज स्थापित करने की प्रस्ताव को भारत सरकार की मंजूरी मिल गई है. भारत सरकार के स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय ने छत्तीसगढ़ में 3 नए मेडिकल कॉलेज स्थापना की स्वीकृति दी है. भारत सरकार की इस मंजूरी के बाद अब कोरबा, महासमुंद और कांकेर में तीन नए मेडिकल काॅलेजों की स्थापना होगी.

भारत सरकार के स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय ने दी स्वीकृति

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की पहल पर भारत सरकार के स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा छत्तीसगढ़ के कोरबा, महासमुंद और कांकेर में तीन नए मेडिकल काॅलेजों को स्थापित करने के प्रस्ताव को मंजूरी प्रदान की गई है. इन तीनों मेडिकल काॅलेजों की स्थापना केन्द्र प्रायोजित योजना के तहत कोरबा, महासमुंद और कांकेर में पहले से स्थापित जिला अस्पताल या रिफरल अस्पतालों में की जाएगी.

इस योजना के तहत स्थापित होने वाले एक मेडिकल काॅलेज की लागत 325 करोड़ रूपए होगी. इसमें केन्द्र सरकार का अंश 60 प्रतिशत लगभग 195 करोड़ रूपए और राज्य सरकार का योगदान 40 प्रतिशत लगभग 130 करोड़ रूपए होगा. इन तीनों मेडिकल काॅलेज के लिए राज्य सरकार द्वारा केन्द्र सरकार के साथ पृथक-पृथक एम.ओ.यू. किया जाएगा. भारत सरकार के स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा छत्तीसगढ़ के स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग के सचिव को छत्तीसगढ़ में तीन नए मेडिकल काॅलेजों की स्थापना के प्रस्ताव की मंजूरी की सूचना पत्र द्वारा भेजी गयी है.

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल का ट्वीट

इस कठिन समय में बताते हुए संतोष हो रहा है कि भारत सरकार के स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा छत्तीसगढ़ के कोरबा, महासमुंद और कांकेर में तीन नए मेडिकल काॅलेजों को स्थापित करने के प्रस्ताव को मंजूरी मिल गई है.