रायपुर : सब के सहयोग से कोरोना का हराना है – मुख्यमंत्री श्री बघेल : मुख्यमंत्री ने प्रदेश के महिलाओं से दूरभाष पर की बातचीत

रायपुर : सब के सहयोग से कोरोना का हराना है – मुख्यमंत्री श्री बघेल : मुख्यमंत्री ने प्रदेश के महिलाओं से दूरभाष पर की बातचीत

रायपुर। मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने आज अपने निवास कार्यालय से प्रदेश के विभिन्न जिलों की आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं सहित  शहरी और ग्रामीण क्षेत्र की महिलाओं से दूरभाष पर बातचीत कर  लॉक डॉउन की स्थिति और व्यवस्थायों की जानकारी ली ।

मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने प्रदेश में कोराना वायरस संक्रमण की रोकथाम और बचाव के लिए ग्रामीण और शहरी क्षेत्र की महिलाओं और आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं से आज अपने निवास कार्यालय से दूरभाष के जरिए बातचीत कर स्थिति का जायजा लिया।  मुख्यमंत्री ने न केवल शहरी बल्कि सुदुर वनांचल की महिलाओं से चर्चा की । उन्होंने लाकडाउन की स्थिति में शासकीय योजनाओं से मिल रहे लाभ तथा आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति व्यवस्था की जानकारी ली। महिलाओं ने बताया कि शहरी क्षेत्रों के साथ-साथ गांव-गांव में स्व स्फूर्त होकर लोगों द्वारा लाकडाउन का कड़ाई से पालन किया जा रहा है। पीथमपुर गांवों में स्वस्फूर्त ढंग से ग्रामीणों ने बैरियर लगाकर लोगों के आने जाने पर निगरानी रख रहे हैं। किसी प्रकार की दिक्कत नहीं है। सामाजिक दूरी का पालन किया जा रहा है। लोगों को आसानी से सब्जी, फल, दूध और राशन सामग्री मिल रही है। कीमते भी नियंत्रित हैं।

दूरभाष पर चर्चा के दौरान मुंगेली जिले के पीथमपुर की आंगनबाड़ी कार्यकर्ता श्रीमती अंजनी साहू ने मुख्यमंत्री को बताया कि गावं में लाॅकडाउन का कड़ाई से पालन हो रहा है। गांव में दो रास्ते हैं दोनों रास्तों पर गांव के लोगों ने स्वस्फूर्त हो कर बेरियर लगाकर लोगों के आने-जाने पर निगरानी रखी जा रही है। आंगनबाड़ी केन्द्रों के माध्यम से गर्भवती, शिशुवती माताओं को रेडी टू ईट फूड घर पहुंचाकर दिया जा रहा है। 6 माह से 3 वर्ष के 23, 3 वर्ष से 6 माह के 24 बच्चों तथा 60 गर्भवती माताओं 6 धात्री माताओं और 3 एनीमिक महिलाओं को रेडी टू ईट की सामग्री दी गई है। गांव में सभी लोग घर में रहते हैं। गांव में पीडीएस के माध्यम से राशन दिया जा रहा है।

कांकेर की किरण देहारी ने बताया कि घर में सभी का स्वास्थ्य ठीक है। पति पोल्ट्री फार्म चलाते हैं। इस वक्त पोल्ट्री फार्म बंद है। आंगनबाड़ी केन्द्रों के माध्यम से रेडी टू ईट का वितरण हो रहा है तथा सूखा राशन मिला है। उचित मूल्य दुकानों से 35 किलो चांवल मिला है। मुख्यमंत्री ने किरण देहारी को बताया कि राज्य शासन द्वारा दो माह का राशन मुफ्त में दिया जा रहा है। इसके लिए किसी को राशि का भुगतान नहीं करना है। आप सभी लोगों को सामाजिक दूरी और स्वच्छता का विशेष ध्यान रखना है।

बीजापुर जिले के ग्राम मडीपारा की गायत्री नेताम ने बताया कि लाॅकडाउन से कोई दिक्कत नहीं हो रही है। आंगनबाड़ी केन्द्रों के माध्यम से बच्चों और शिशुवती माताओं को पोषण आहार मिल रहा है। सरगुजा जिले के ग्राम पड़ोली नवापारा की श्रीमती ज्योति यादव ने बताया कि गांव में राशन बंट रहा है। लाॅक डाउन से वहां किसी प्रकार की दिक्कत नहीं है।

मुख्यमंत्री द्वारा राजनांदगांव के जीवन अपार्टमेंट में रहने वाली श्रीमती अनिता भदौरिया से हाल चाल पूछने पर बताया कि लाक डाउन का पूरा पालन हो रहा है। लाकडाउन से पूरा परिवार को पूरे दिन एक साथ रहने का अवसर मिला है। फल सब्जी मिलने में काई दिक्कत नहीं हो रही है। कीमतें नियंत्रित हंै। शासन के निर्देशों का पालन हो रहा है। हम सब को मिल कर कोरोना को पराजित करना है।

कबीर नगर रायपुर की श्रीमती मानसी नामदेव ने बताया कि वह स्कूल में शिक्षक है।  मुख्यमंत्री ने उनके पति से भी बातचीत की। उन्होंने मुख्यमंत्री को बताया कि वे लेबर कोर्ट में काम करते हैं। घर के काम काज में हाथ बंटा रहे हैं। सभी लोग स्वस्थ है। उनके मुहल्ले में भी लाॅक डाउन का पालन हो रहा है।

सुकमा जिले के ग्राम पेण्टा की श्रीमती बेद्दी सग्गो ने बताया कि गांव में आंगनबाड़ी केन्द्रों के माध्यम से पोषण आहार घर पहंुचाकर दिया जा रहा है। गांव में कोई भी व्यक्ति कोरोना से संक्रमित नहीं है। शासन की योजनाओं का पूरा लाभ गांव में मिल रहा है।  बिलासपुर की श्रीमती कल्याणी शेन्द्रे ने मुख्यमंत्री को बताया कि दैनिक जरूरतों की चीजें आसानी से मिल रही हैं। सभी सोशल डिस्टेसिंग का पालन कर रहे है।