रायपुर : मुख्यमंत्री भूपेश बघेल वरिष्ठ पत्रकार स्वर्गीय श्री ललित सुरजन की श्रद्धांजलि सभा में शामिल हुए : अर्पित की विनम्र श्रद्धांजलि

रायपुर : मुख्यमंत्री भूपेश बघेल वरिष्ठ पत्रकार स्वर्गीय श्री ललित सुरजन की श्रद्धांजलि सभा में शामिल हुए : अर्पित की विनम्र श्रद्धांजलि

मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल आज यहां प्रगतिशील विचारक, लेखक, कवि और वरिष्ठ पत्रकार स्वर्गीय श्री ललित सुरजन की श्रद्धांजलि सभा में शामिल हुए। उन्होंने स्वर्गीय श्री ललित सुरजन के चित्र पर पुष्प अर्पित कर उन्हें विनम्र श्रद्धांजलि दी। मुख्यमंत्री ने खालसा स्कूल परिसर स्थित माता संुदरी सभाकक्ष में आयोजित इस श्रद्धांजलि सभा में कहा कि श्री ललित सुरजन जी का निधन हम सबके लिए अपूरणीय क्षति है। उनके निधन से पत्रकारिता को तो नुकसान हुआ ही हमने एक अभिभावक को खो दिया। हर वर्ग के लोग उनके साथ गंभीर विषयों पर विचार विमर्श करते थे। रायपुर में कोई भी सामाजिक कार्यक्रम हो और उसमें वे उपस्थित न हों, हम ऐसी कल्पना भी नहीं करते थे। उनके जाने से रिक्त हुए इस स्थान को कौन भरेगा।
स्वर्गीय श्री ललित सुरजन के सरल-सहज और विनम्र व्यक्तित्व पर प्रकाश डालते हुए मुख्यमंत्री श्री बघेल ने कहा कि ललित जी हर विचारधारा के लोगों के साथ घुल-मिल जाते थे। भले ही उनके विचार अलग हों, मुस्करा कर उनकी बातों को ध्यान से सुनते थे। देशबंधु के माध्यम से जो लौ स्वर्गीय श्री मायाराम सुरजन जी ने जलाई थी, उसे श्री ललित सुरजन जी ने बखूबी आगे बढ़ाया। देशबंधु की पाठशाला से निकले अनेक लोग बहुत ऊंचाईयों तक पहुंचे। मुख्यमंत्री ने कहा कि आज भले ही श्री ललित सुरजन जी हमारे बीच नहीं है, लेकिन उनके विचार और उनके साथ बिताए गए क्षणों की यादें हमारे साथ हैं। ललित सुरजन जी बहुमुखी प्रतिभा के धनी थे। उन्होंने अनेक क्षेत्रों में विशिष्ट योगदान दिया है। उनके विचारों और कार्याें को आगे बढ़ाना ही उनके प्रति हमारी सच्ची श्रद्धांजलि होगी। मुख्यमंत्री ने स्वर्गीय श्री ललित सुरजन जी के परिवार जनों के प्रति संवेदना प्रकट करते हुए उनकी आत्मा की शांति के लिए ईश्वर से प्रार्थना की। श्रद्धांजलि सभा में दो मिनट का मौन रखकर स्वर्गीय श्री ललित सुरजन जी को श्रद्धांजलि दी गई। श्रद्धांजलि सभा में गौसेवा आयोग के अध्यक्ष महंत राजेश्री राम सुंदर दास, छत्तीसगढ़ गृह निर्माण मंडल के अध्यक्ष श्री कुलदीप जुनेजा, मुख्यमंत्री के सलाहकार श्री विनोद वर्मा सहित अनेक वरिष्ठ पत्रकार, साहित्यकार, जनप्रतिनिधि, विभिन्न संगठनों के प्रतिनिधि और प्रबुद्व नागरिक उपस्थित थे।