रायपुर : मुख्यमंत्री ने वामनराव लाखे की जयंती पर उनके योगदान को किया याद

रायपुर : मुख्यमंत्री ने वामनराव लाखे की जयंती पर उनके योगदान को किया याद

मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने स्वतंत्रता संग्राम सेनानी स्वर्गीय पंडित वामनराव लाखे की जयंती 17 सितम्बर पर उन्हें नमन किया है। छत्तीसगढ़ के लिए श्री लाखे के अमूल्य योगदान को याद करते हुए श्री बघेल ने कहा है कि लाखे जी ने अपना कार्य क्षेत्र सहकारी आंदोलन को बनाया। किसानों की आर्थिक सुदृढ़ता और सहकारी संगठनों की मजबूती के लिए वे जीवन पर्यन्त कार्य करते रहे। सहकारिता के क्षेत्र में किये गये उनके प्रयासों का लाभ आज प्रदेश में लाखों किसानों को मिल रहा है। श्री लाखे के प्रयासों से ही रायपुर में प्रथम सहकारी बैंक की स्थापना हुई। श्री बघेल ने कहा कि श्री लाखे ने छत्तीसगढ़ में स्वतंत्रता संग्राम के दौरान जनजागरण में भी महत्वपूर्ण भूमिका निभाई और कई आंदोलनों का नेतृत्व किया। छत्तीसगढ़ की प्रथम मासिक पत्रिका का प्रकाशन कर उन्होंने यहां पत्रकारिता की बुनियाद रखी। राष्ट्रीय चेतना के विकास में इस पत्रिका ने प्रमुख भूमिका निभाई। बघेल ने कहा कि श्री लाखे की निःस्वार्थ सेवा भावना और कर्मठ व्यक्तित्व सदा प्रेरणा देता रहेगा।