मुख्यमंत्री भूपेश बघेल : प्रगति के लिए सवाल करना जरूरी, नवा छत्तीसगढ़ क्विज कॉन्टेस्ट में धमतरी ने मारी बाजी

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल : प्रगति के लिए सवाल करना जरूरी, नवा छत्तीसगढ़ क्विज कॉन्टेस्ट में धमतरी ने मारी बाजी

मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल आज देर शाम समाचार चौनल आईबीसी-24 द्वारा राजधानी रायपुर के एनएच गोयल वर्ल्ड स्कूल में आयोजित नवा छत्तीसगढ़ क्विज कॉन्टेस्ट 2021 के फाइनल राउंड में शामिल हुए। उन्होंने इस अवसर पर कहा कि प्रगति के लिए व्यक्ति का सवाल पूछना जरूरी। उन्होंने कहा कि पिछड़ने का सबसे बड़ा सबब यही है कि हम सवाल नहीं पूछते।

मुख्यमंत्री ने बच्चों से कहा कि मन में प्रश्न है तो शिक्षक से अवश्य पूछिये। बच्चों को उनके प्रश्नों के उत्तर मिलने चाहिए। मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर क्विज कॉन्टेस्ट के विजेता धमतरी, उप-विजेता कांकेर के साथ ही बलौदाबाजार और कोण्डागांव की टीमों को भी मेडल, प्रशस्ति पत्र के साथ प्रथम, द्वितीय और तृतीय स्थान प्राप्त करने वाली टीमों को 51, 31 और 21 हजार रूपए की राशि का चेक प्रदान कर पुरस्कृत किया।

मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने कार्यक्रम में कहा कि क्विज प्रतियोगिता में हिस्सा लेने के लिए सतत् अध्ययन की आवश्यकता है। सामान्य ज्ञान उसी के पास होगा, जो निरंतर अपडेट रहेगा। आजकल नये-नये खोज हो रहे हैं, पुराने के साथ नये जानकारी का होना भी जरूरी है। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रतियोगिता में भाग लेते हैं तो आत्मविश्वास बढ़ता है। सफलता के लिए आत्मविश्वास का होना जरूरी है। इस तरह की प्रतियोगिता में भाग लेने से हम अपनी क्षमता की पहचान होती है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि ज्ञान कहीं से भी मिले, उसे ग्रहण करना चाहिए। मन में प्रश्न है तो उसे अवश्य पूछना चाहिए।बच्चों को पूरी शालीनता के साथ बड़ों से सवाल पूछना चाहिए । जो जितना सवाल पूछता है,वह उतनी प्रगति करता है। जिन समाजों ने सवाल पूछे उन्होंने उन्नति की। हम अपने आप से सवाल नहीं पूछते इसलिए हम पिछड़ गए। नवा छत्तीसगढ़ क्विज कॉन्टेस्ट 2021 की इस विद्यालयीन प्रतियोगिता में राज्य के 16 जिलों के 20 हजार प्रतिभागियों ने हिस्सा लिया था।

फाइनल राउंड में कोण्डागांव, कांकेर और बलौदाबाजार की टीमें पहुंची। इस क्विज में कुल 8 राउंड-छत्तीसगढ़ी संस्कृति एवं कला, पहचानों कौन, छत्तीसगढ़ी लोकनृत्य, छत्तीसगढ़ स्पेशल, कोविड-19, खेल-खिलाड़ी, अविष्कार एवं खोज और रैपिड फायर के तहत प्रतिभागियों से प्रश्न पूछे गए।

इस अवसर पर स्कूल शिक्षा मंत्री डॉ. प्रेमसाय सिंह टेकाम, संसदीय सचिव श्री विकास उपाध्याय, छत्तीसगढ़ खादी एवं ग्रामोद्योग बोर्ड के अध्यक्ष श्री राजेन्द्र तिवारी, अध्यक्ष अल्पसंख्यक आयोग श्री महेन्द्र छाबड़ा, कृषि एवं बीज विकास निगम के अध्यक्ष श्री सुरेन्द्र शर्मा, एनएच गोयल वर्ल्ड स्कूल के चेयरमैन श्री सुरेश गोयल, संचालक श्री राजेन्द्र गोयल, एमडी श्री नरेन्द्र गोयल सहित प्रतिभागी स्कूलों के बच्चे, शिक्षक भी उपस्थित थे।