भारत बंद कर रहे प्रदर्शनकारियों ने डॉक्टर को पीटा, विरोध में ओपीडी आज रहेंगे बंद

भारत बंद कर रहे प्रदर्शनकारियों ने डॉक्टर को पीटा, विरोध में ओपीडी आज रहेंगे बंद

बिलासपुर (एजेंसी) | बंद समर्थक दवा विक्रेता संघ के सदस्यों ने बिलासपुर के तीन अस्पतालों में डॉक्टरों के साथ मारपीट की। तीन डॉक्टरों को चोटें आई हैं। घटना से नाराज शहर के सभी प्राइवेट अस्पताल में शनिवार को ओपीडी बंद करने का निर्णय लिया गया है। पीड़ित डॉक्टर की शिकायत पर सिविल लाइन पुलिस ने महेश अग्रवाल, राघवेंद्र गुप्ता, हरजीत सिंह सलूजा सहित अन्य के खिलाफ जुर्म दर्ज कर लिया है।




जानकारी के मुताबिक दवा विक्रेता संघ के सदस्य दुकान बंद कराने के लिए घूम रहे थे। इसी दौरान शाम 5 बजे मगरपारा स्थित क्लीनिक में डॉ. जगबीर सिंह गंभीर मरीजों को दवा लिख रहे थे, तभी विक्रेता संघ के सदस्य क्लीनिक में पहुंच गए और उनके साथ मारपीट की। इसके बाद यही लोग आरोग्य हास्पिटल पहुंचे। वहां भी मरीजों को दवा लिख रहे डॉक्टर के साथ गालीगलौज करते हुए मारपीट की। फिर ये ईदगाह चौक स्थित शिशु भवन अस्पताल गए और डॉ. श्रीकांत गिरी के साथ धक्का-मुक्की की।

पुरे प्रदेश में रहा बंद का असर

ऑनलाइन कारोबार, फ्लिपकार्ट और वॉलमार्ट कंपनी की डील और दवाइयों की ऑनलाइन बिक्री के खिलाफ शुक्रवार को कारोबारियों ने रायपुर समेत पूरे राज्य में कारोबार पूरी तरह बंद रखा। व्यापारिक संस्था छत्तीसगढ़ कैट और चैंबर की ओर से बंद का आह्वान किया गया था। छत्तीसगढ़ का सबसे बड़ा दवा बाजार मेडिकल कांप्लेक्स पूरी तरह से बंद रहा। नर्सिंग होम और अस्पतालों के मेडिकल स्टोर भी बंद रहे। जरूरतमंद लोग केवल रेडक्रास और जनऔषधि केंद्रों से ही दवाइयां खरीद पाए। स्कूल, कॉलेज, पेट्रोल पंप, बस, ऑटो समेत कई जरूरी सुविधाओं को बंद से दूर रखा गया। राजधानी में सभी प्रमुख बाजार, मल्टीप्लेक्स, शॉपिंग मॉल, टॉकीज, होटल, ऑटोमोबाइल, बड़े शो रुम भी बंद रहे।



Leave a Reply