मुख्यमंत्री सुपोषण अभियान में लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी – श्रीमती अनिला भेड़िया: न्याय योजना के तहत बेमेतरा जिले मे 1.10 लाख किसानों को 94.60 करोड़ रूपये का भुगतान

मुख्यमंत्री सुपोषण अभियान में लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी – श्रीमती अनिला भेड़िया: न्याय योजना के तहत बेमेतरा जिले मे 1.10 लाख किसानों को 94.60 करोड़ रूपये का भुगतान

मुख्यमंत्री सुपोषण अभियान के तहत बच्चों में कुपोषण दूर करने दिये जा रहे पूरक पोषण आहार, रेडी टू ईट की गुणवत्ता और वितरण में किसी भी तरह की लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। शिकायत मिलने पर संबंधित अधिकारी-कर्मचारी के खिलाफ कड़ी कार्यवाही की जाएगी। महिला एवं बाल विकास तथा समाज कल्याण मंत्री और बेमेतरा जिले की प्रभारी मंत्री श्रीमती अनिला भेड़िया ने आज गुरुवार को बेमेतरा जिले के अधिकारियों की बैठक लेकर विभागीय योजनाओं के क्रियान्वयन की समीक्षा करते हुए यह बात कही। मंत्री ने बच्चों को दिये जा रहे पूरक पोषण आहार की समीक्षा करते हुए कहा कि उन्होंने गड़बड़ी करने वाले समूहों को तत्काल बर्खास्त करने के निर्देश भी दिये। बैठक में कृषि, पशुपालन एवं जलसंसाधन मंत्री श्री रविन्द्र चौबे, विधायक बेमेतरा आशीष कुमार छाबड़ा, नवागढ़ विधायक गुरूदयाल सिंह बंजारे, कलेक्टर श्री शिव अनंत तायल सहित सभी जिला स्तरीय अधिकारी उपस्थित थे। इस अवसर पर प्रभारी मंत्री और कृषि मंत्री 05 निःशक्तजनों को मोटराइज्ड ट्रायसिकल और श्रम विभाग की मुख्यमंत्री सिलाई मशीन सहायता योजना के अंतर्गत 05 महिलाओं को सिलाई मशीन का वितरण भी किया

श्रीमती भेड़िया ने वैश्विक महामारी कोरोना वायरस के संक्रमण की रोकथाम के लिए जिले में किये जा रहे प्रयासों के संबंध मे जानकारी लेते हुए कहा कि कोरोना महामारी से निपटने के लिए टीम भावना से अच्छा कार्य किया जा रहा है। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी ने बताया कि बेमेतरा के लाइवली हुड कॉलेज मे 50 बिस्तर और शासकीय स्नातकोत्तर (पीजी) कॉलेज मे 100 बिस्तर आइसोलेशन वार्ड तैयार किया गया है। एमसीएच में 100 बिस्तर युक्त कोविड-19 अस्पताल तैयार किया गया है। ऑक्सीजन पाईप लाईन विस्तार कार्य जारी है। बैठक के दौरान श्रीमती भेंड़िया ने अधिकारियों को योजनाओं के प्रगति से स्थानीय विधायकों को भी अवगत कराने के निर्देश दिए।

कलेक्टर श्री तायल बताया कि राजीव गांधी किसान न्याय योजना की जानकारी देते हुए बताया कि योजना के तहत जिले मे एक लाख 10 हजार 935 किसानों को 94 करोड़ 60 लाख 56 हजार रु. का ऑनलाइन भुगतान उनके बैंक खाते मे कर दिया गया है। महिला बाल विभाग के जिला कार्यक्रम अधिकारी ने बताया कि लॉकडाउन के दौरान आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं द्वारा घर-घर जाकर रेडी-टू-ईट का वितरण किया गया। क्वारेंटाइन सेन्टर मे रुके प्रवासी मजदूरों में से 311 गर्भवतियों को स्व-सहायता समूह के सहयोग से सु-पोषण किट का वितरण किया गया। इस कार्य कि प्रधानमंत्री कार्यालय एवं भारत सरकार के पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्रालय द्वारा सराहना भी की गई। श्रीमती भेड़िया ने अवैध शराब की बिक्री, जुआ सट्टा पर नियंत्रण के साथ जिले मे पेयजल एवं निस्तारी के संबंध में जानकारी ली।

कृषि मंत्री श्री चौबे ने जिले मे खाद, बीज के भण्डारण एवं उठाव की समीक्षा की। उप संचालक कृषि ने बताया कि किसानों द्वारा अपने जरुरत के मुताबिक उठाव किया जा रहा है। जिले मे 61 प्रतिशत खाद का उठाव किया गया है। रोपा और बियासी के समय खाद के उठाव मे तेजी आयेगी।