रायपुर : मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ सीमा पर कोरोना वायरस से आमजनों को सुरक्षित रखने सामूहिक कार्ययोजना पर बनी सहमति

रायपुर : मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ सीमा पर कोरोना वायरस से आमजनों को  सुरक्षित रखने सामूहिक कार्ययोजना पर बनी सहमति

मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ राज्य की सीमा से लगे जिले सूरजपुर और सिंगरौली की अंतर्राज्यीय चेक पोस्ट नवाटोला पर प्रवासी मजदूरों के सुरक्षित आवागमन और कोरोना वायरस संक्रमण की रोकथाम को लेकर आज दोनों जिलों के अधिकारियों की अहम बैठक हुई। इस बैठक में कोरोना वायरस से आमजनो को सुरक्षित रखने के लिए विशेष एहतियात बरतने सामूहिक कार्ययोजना पर सहमति बनी है। दोनों जिलों के अधिकारियों ने अवैध रूप से मजदूरों द्वारा सीमा में प्रवेश रोकने, मजदूरों के सुरक्षित आवागमन, सीमावर्ती क्षेत्रों के रहवासियों के बीच जागरूकता अभियान, अपराधिक गतिविधियों, तस्करी पर प्रभावी रोकथाम सहित अन्य महत्वपूर्ण बिंदुओं पर चर्चा की। इस दौरान कलेक्टर श्री दीपक सोनी, पुलिस अधीक्षक श्री राजेश कुकरेजा, वन मंडलाधिकारी जे.आर.भगत सहित अन्य अधिकारी के साथ पड़ोसी राज्य मध्यप्रदेश के जिला सिंगरौली के कलेक्टर श्री के.व्ही.एस. चौधरी, पुलिस अधीक्षक श्री टी.के. विद्यार्थी सहित जिला प्रशासन के अधिकारी उपस्थित थे।

सूरजपुर कलेक्टर श्री दीपक सोनी ने कहा की वर्तमान में लॉकडाउन अवधि में मजदूर अपने घर वापसी के लिए जागरूकता के अभाव में अलग अलग राज्यों से होते हुए सूरजपुर व सिंगरौली जिलें के सीमा में प्रवेश जंगली व पगडंडियों के माध्यम से कर रहे हैं, यह सबसे बड़ी चुनौती है क्योंकि बिना किसी सूचना के आवागमन करनें वालें मजदूरों में जागरूकता का अभाव है, ऐसे मजदूर अगर संक्रमित है और दोनों जिलों में आवागमन करते हैं तो संक्रमण फैलने से दिक्कते बढ़ सकती हैं। अवैध रूप से मजदूरों के आवागमन को रोकने के लिए दोनों जिलों के अधिकारियों की टीम सीमावर्ती क्षेत्रों, जंगली रास्तों सहित पगडंडियों पर अधिक सजगता से निगरानी करनी होगी। स्वास्थ्य परिक्षण के बाद ही प्रवेश की अनुमति दी जाएगी। सिंगरौली जिले के कलेक्टर श्री के.वी.एस. चौधरी ने अपने जिले के प्रशासनिक अधिकारियों को सूरजपुर जिलें के अधिकारियों के साथ नियमित संवाद के साथ स्थिति पर चर्चा कर प्रभावी रोकथाम के कार्यों को एक साथ करनें की सहमति जताई है।

सूरजपुर जिले के अधिकारियों ने बताया कि जिले के मजदूर ऐसे मजदूर जो सिंगरौली जिले से वापस आ रहे है तो उन्हें सीमा पर स्थित चेकपोस्ट पर उपस्थित अधिकारियों को सूचित करने और वहां स्वास्थ्य परीक्षण करने के उपरांत उन्हें अपनी गंतव्य तक ले जाने के लिए जिला प्रशासन सूरजपुर द्वारा बसों का इंतजाम किया गया है। पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री राजेश कुकरेजा ने सिंगरौली जिले के पुलिस अधीक्षक श्री टी. के. विद्यार्थी से चर्चा कर दोनों राज्य के सीमावर्ती गांव में संयुक्त जागरुकता अभियान के साथ-साथ बाहर से आने वाले प्रत्येक व्यक्ति की जानकारी ग्रामीणों व पुलिस जवानों के माध्यम से मिलनी चाहिए। जिससे कोरोना संक्रमण पर प्रभावी रोकथाम की जा सके, इसके अलावा लॉकडाउन में तस्करों व अपराधी प्रवृति के द्वारा नशीली दवा, शराब, हथियारों, ईमारती लकडी सहित अन्य गतिविधियों पर परस्पर समन्वय बनाकर दोनों जिलों के पुलिस, वन, राजस्व विभाग के अधिकारी रोकथाम के लिए संयुक्त रूप से कार्य कर सकेंगे।