मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने मितान योजना का किया शुभारंभ

मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने मितान योजना का किया शुभारंभ

मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने आज मई दिवस पर अपने निवास कार्यालय में आयोजित समारोह में प्रदेश में मुख्यमंत्री मितान योजना का शुभारंभ करते हुए कहा कि इस योजना के माध्यम से सभी नागरिकों विशेषतः बुजुर्गों, दिव्यांगों एवं निरक्षरों को घर बैठे आसानी से 100 प्रकार की सेवाएं घर बैठे ही मिल सकेंगी। अभी वर्तमान में 14 नगर निगमों में 13 प्रकार की सेवा उपलब्ध होगी, शीघ्र ही पूरे प्रदेश में इस योजना का विस्तार किया जाएगा और अन्य सेवाएं भी इस योजना के माध्यम से प्राप्त की जा सकेंगी। इस योजना के शुरू होने से सरकारी प्रक्रिया और आसान होगी। नागरिकों को घर बैठे मितानों के माध्यम से नागरिक सेवाओं का लाभ निर्धारित समय-सीमा में पूर्ण पारदर्शिता के साथ उनके डोर-स्टेप पर मिलेगा। इसके पहले मुख्यमंत्री श्री बघेल ने अपने निवास के बाहर आयोजित कार्यक्रम में मुख्यमंत्री मितान योजना के लिए तैनात मितानों को टैबलेट वितरित किए और उन्हें हरी झण्डी दिखाकर योजना का शुभारंभ किया और उन्हें कार्य पर रवाना किया।

मुख्यमंत्री मितान योजना’ के तहत नागरिकों को मूल निवास प्रमाण पत्र, जाति प्रमाणपत्र, आय प्रमाण पत्र, दस्तावेज़ की नकल, गैर-डिजिटाइज्ड (भूमि रिकॉर्ड आदि की प्रति), मृत्यु प्रमाण पत्र, विवाह पंजीकरण और प्रमाणपत्र, जन्म प्रमाणपत्र, दुकान और स्थापना पंजीकरण, जन्म प्रमाणपत्र सुधार, मृत्यु प्रमाणपत्र सुधार, विवाह प्रमाणपत्र सुधार आदि नागरिक सेवाएं घर बैठे मिलेंगी।

मुख्यमंत्री श्री बघेल की सर्वाेच्च प्राथमिकता वाली इस योजना के तहत प्राप्त सभी आवेदनों पर मुख्यमंत्री मितान योजना के माध्यम से बिना किसी देरी के प्राथमिकता के आधार पर कार्रवाई की जाएगी। संबंधित आवेदकों को प्रमाण पत्र ’मितान’ द्वारा उनके घर पर प्रदान किए जाएंगे। सभी कलेक्टरों को इस योजना का व्यक्तिगत रूप से मानिटरिंग करने और योजना का सुचारू संचालन सुनिश्चित करने के निर्देश जारी किए गए हैं। मुख्यमंत्री मितान योजना के जरिए शासकीय सेवाओं का लाभ उठाने के लिए नागरिकों को मितान टोल फ्री नम्बर 14545 पर कॉल करना होगा। फोन कॉल के बाद मितान उनके घर पहुंचकर आवश्यक दस्तावेज लेंगे और संबंधित कार्यालय से प्रमाण पत्र बनवाकर उनके घर पहुंचाएंगे। कॉल सेंटर पर नागरिकों को शासकीय सेवाओं से संबंधित प्रक्रिया तथा आवश्यक दस्तावेजों की जानकारी भी प्राप्त होगी, जिससे नागरिकों को निर्धारित समय में शासकीय सेवाएं मिलेंगी, उनके समय की बचत होगी और उन्हें कार्यालयों के चक्कर नहीं लगाने पड़ेंगे।

इस अवसर पर नगरीय प्रशासन मंत्री डॉ. शिवकुमार डहरिया, गृह मंत्री श्री ताम्रध्वज साहू, स्वास्थ्य मंत्री श्री टी.एस. सिंहदेव, कृषि मंत्री श्री रविन्द्र चौबे, स्कूल शिक्षा मंत्री डॉ. प्रेमसाय सिंह टेकाम, उद्योग मंत्री श्री कवासी लखमा, राजस्व मंत्री श्री जयसिंह अग्रवाल, महिला एवं बाल विकास मंत्री श्रीमती अनिला भेंड़िया, लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी मंत्री श्री गुरू रूद्रकुमार, उच्च शिक्षा मंत्री श्री उमेश पटेल, मुख्य सचिव श्री अमिताभ जैन, अपर मुख्य सचिव श्री सुब्रत साहू, विभिन्न विभागों के प्रमुख सचिव, मुख्यमंत्री के सचिव श्री सिद्धार्थ कोमल सिंह परदेसी, नगरीय प्रशासन एवं विकास विभाग की सचिव श्रीमती अलरमेलमंगई डी., राज्य शहरी विकास अभिकरण के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री सौमिल रंजन चौबे सहित विभिन्न विभागों के सचिव और मुख्यमंत्री सचिवालय में उप सचिव सुश्री सौम्या चौरसिया भी उपस्थित थीं। अनेक विधायक, महापौर तथा जनप्रतिनिधि, कमिश्नर, कलेक्टर और नगर निगम आयुक्त वर्चुअल रूप से कार्यक्रम से जुडे़।