जशपुरनगर : मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने गम्हरिया गौठान में बायोगैस से बनी चाय का लिया आनंद

जशपुरनगर  : मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने गम्हरिया गौठान में बायोगैस से बनी चाय का लिया आनंद

मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने जशपुर जिले के दो दिवसीय प्रवास के दौरान गम्हरिया के गौठान पहुंचकर ग्रामीण स्वच्छ भारत मिशन अंतर्गत निर्मित बायोगैस संयंत्र का अवलोकन किया। मुख्यमंत्री ने गौठान में निर्मित्त बायोगैस संयंत्र की सराहना करते हुए बायोगैस से जुड़े सूरज स्वसहायता समूह की महिलाओं से संयंत्र की कार्यविधि, उपयोगिता एवं उनके कार्यो के बारे में विस्तार से जानकारी ली। सूरज महिला स्वसहायता समूह की अध्यक्ष श्रीमती सरस्वती बड़ा ने मुख्यमंत्री श्री बघेल को बताया कि बायोगैस का उपयोग बहुत ही सरल है एवं इसके उपयोग से उन्हें काफी सुविधा मिली है। उन्होने बताया कि समूह में उनके साथ 10 महिलाएं जुड़ी हुई है। जिनके द्वारा संयंत्र में प्रतिदिन गोबर डाला जाता है, जिससे गैस का निर्माण होता है एवं टंकी से निकलने वाले स्लरी का उपयोग गौठान में ही जैविक खाद निर्माण में किया जा रहा है, जिससे खाद की गुणवत्ता में बढ़ोत्तरी होगी। महिलाओं ने बताया कि गौठान में 10 क्यूबिक मीटर की क्षमता वाला टंकी लगाया है, जिससे संयंत्र में निर्मित्त बायोगैस से रोजाना दो घंटे खाना पकाया जा सकता है एवं इससे निर्मित्त खाने के स्वाद किसी प्रकार का फर्क नहीं होता। साथ ही यह प्रदूषणरहित है इससे वातावरण को किसी प्रकार की कोई हानि नहीं होती। बायोगैस घरेलू ईंधन का अच्छा वैकल्पिक साधन है। इससे ईंधन के लिए पेड़ो की होने वाली कटाई में कमी आएगी।

जिला सलाहकार स्वच्छ भारत मिशन श्री राजेश जैन ने मुख्यमंत्री को जानकारी देते हुए बताया कि जिले के विभिन्न विकासखंडो में 65 बायोगैस संयंत्र स्वीकृत है जिसके अंतर्गत मनोरा के सुरजुला, जशपुर के गिरांग सहित अन्य स्थानों पर बायोगैस संयंत्र स्थापित किया जा चुका है। उन्होने बताया कि वर्तमान में गम्हरिया गौठान समिति बायोगैस का उपयोग भोजन पकाने में करेगें एवं आगामी समय में गौठान में गैस भंडारित कर गैस रिफलिंग कार्य की योजना बनाई जा रही है। इस हेतु विशेषज्ञों से संपर्क किया जा रहा है।

मुख्यमंत्री श्री बघेल द्वारा महिलाओं से ग्रामीण स्वच्छ भारत मिशन अंतर्गत ग्रामीण क्षेत्रों में हो रहे ठोस एव तरल अपशिष्ट प्रबंधन, सामुदायिक शौचालय निर्माण, दिव्यांगो हेतु विशेष प्रकार के शौचालय निर्माण सहित स्वच्छग्रहियांे द्वारा किये जा रहे अन्य कार्यो की भी विधिवत जानकारी ली गई। इस दौरान मुख्यमंत्री श्री बघेल, प्रभारी मंत्री जशपुर श्री अमरजीत भगत, संसदीय सचिव श्री चिंतामणि महाराज, विधायक जशपुर श्री विनय भगत, संभाग आयुक्त सुश्री जिनेविवा किंडो, आईजी श्री आर.एल. डांगी सहित उपस्थित अन्य अतिथियों ने गौठान में महिलाओं द्वारा बायोगैस से निर्मित्त किए गए चाय का आनंद लिया।  चाय की चुस्की लेते हुए मुख्यमंत्री ने महिलाओं के कार्यो की प्रशंसा की। उन्होने कहा कि अपने घर के साथ-साथ अपने आस-पास के क्षेत्रों को साफ एवं सुंदर बनाए रखने में आपका योगदान महत्वपूर्ण है। आप जो गांव-शहर की साफ-सफाई के लिए सार्थक प्रयास कर रही है वह काबिले तारीफ है। उन्होनें महिलाओं को स्वच्छता अभियान में अपना महत्वपूर्ण योगदान देने एवं इसी प्रकार आगे भी मेहनत करते रहने के लिए प्रोत्साहित किया।