जांजगीर-चांपा : सेंपल कलेक्शन के लिए अन्य जिलों से भी आएंगे लैब टेक्नीशियन- कलेक्टर : निजी चिकित्सालयों के लैब टेक्निशियनों को कोविड-19 सेंपल कलेक्शन की ट्रेनिंग देने के निर्देश

जांजगीर-चांपा : सेंपल कलेक्शन के लिए अन्य जिलों से भी आएंगे लैब टेक्नीशियन- कलेक्टर :  निजी चिकित्सालयों के लैब टेक्निशियनों को कोविड-19 सेंपल कलेक्शन की ट्रेनिंग देने के निर्देश

कलेक्टर श्री जनक प्रसाद पाठक ने आज कोविड-19 के संक्रमण की रोकथाम के लिए गठित जिला स्तरीय कोर कमेटी की बैठक में कहा कि अन्य राज्यों से आने वाले जिले के श्रमिकों की बड़ी संख्या को ध्यान में रखते हुए मेडिकल टीम को मजबूती से काम करना होगा। जिला प्रशासन द्वारा हर संभव मदद की जा रही है। उन्होंने आवश्यकता अनुसार अन्य जिलों से भी लैब टेक्नीशियन को सैंपल कलेक्शन के लिए बुलाने के निर्देश दिए।
रायगढ़ मेडिकल कॉलेज के एक्सपर्ट द्वारा जिले के लैब टेक्नीशियन को सैंपल कलेक्शन की एडवांस प्रशिक्षण की व्यवस्था की गयी है।  कलेक्टर ने कहा कि मेडिकल टीम, पुलिस बल, राजस्व विभाग, स्वच्छता कर्मचारी एवं अन्य विभागों की टीम जो सामने आकर कोविड-19 करण के नियंत्रण के लिए काम कर रही है, वे स्वयं भी संक्रमण से बचने के लिए आवश्यक सावधानी बरतें। क्वारेंटीन सेंटर में नियुक्त किए गए कर्मचारियों को भी स्वयं की सुरक्षा के संबंध में निर्देश दिया गया है।

क्वारेंटीन सेंटर के निर्देशों के  उल्लंघन पर दो व्यक्तियों के खिलाफ मामला दर्ज-
पुलिस अधीक्षक श्रीमती पारुल माथुर ने बताया कि कंटेनमेंट जोन में सभी गतिविधियां पूर्णतः प्रतिबंधित कर दी गई है वाहनों का आवागमन बंद है शासकीय, अशासकीय और व्यवसायिक गतिविधियां  रोक दी गई है।  उन्होंने बताया कि बम्हनीडीह के प्री मैट्रिक अनुसूचित जाति हास्टल में क्वारेंटीन किए गए दो लोगों द्वारा क्वारेंटीन के निर्देशों का उल्लंघन करने पर प्रकरण दर्ज किया गया है। क्वारेंटीन किए ऋषिराज और श्यामसुंदर द्वारा आहता लांघ कर बाहर जाने का प्रयास करने की शिकायत हास्टल अधीक्षक और क्वारेंटीन प्रभारी द्वारा लिखित में दी गयी है। जिसपर महामारी अधिनियम 1897, भादवि 188,269,271 व 34 के तहत प्रकरण दर्ज किया गया है।  कोर कमेटी की में
जिला प्रशासन के मार्गदर्शन में विभागीय समन्वय कोविड-19 के नियंत्रण के लिए किए जा रहे कार्यों की प्रशंसा की गई।
परिवार एवं कल्याण विभाग से राज्य स्तरीय चिकित्सा अधिकारी डॉ कमलेश जैन और विश्व स्वास्थ्य संगठन के प्रतिनिधि के रूप में डॉ प्रदीप भी बैठक में उपस्थित थे। डॉक्टर जैन ने बताया कि उनकी टीम द्वारा कंटेंनमेंट जोन बम्हनीडीह क्षेत्र का निरीक्षण किया जा चुका हैं। स्वास्थ्य विभाग के अनुसार कंटेनमेंट में सभी प्रोटोकाल का पालन किया जा रहा है। उन्होंने क्वॉरेंटीन सेंटर की व्यवस्था, स्वास्थ्य एवं पुलिस विभाग की सक्रियता, जिला प्रशासन के मार्गदर्शन में विभागीय समन्वय की प्रशंसा की। डॉक्टर जैन ने कहा कि एक ट्रेन से पहुंचे श्रमिकों को एक ही स्थान पर क्वारेंटीन किए जाने से 5 एक्टिव पाए गए। श्रमिकों से संक्रमण का क्षेत्र बहुत ही सीमित  होने की संभावना है। कांटेक्ट ट्रेसिंग और सैंपल कलेक्शन का कार्य भी समय पर किया जा रहा है।
बच्चों का टीकाकरण एवं गर्भवती महिलाओं की नियमित जांच जारी की जा रही

सीएमएचओ डाॅ एस आर बंजारे ने बताया कि कैंटीन सेंटर में ठहरे हुए गर्भवती महिलाओं, छोटे बच्चों और वृद्धजनों की सेप्रेट लिस्टिंग की गयी है।  छोटे बच्चों का टीकाकरण गर्भवती महिलाओं की नियमित जांच और वृद्धजनों को नियमित स्वास्थ्य परीक्षण की भी सुविधा स्वास्थ्य विभाग द्वारा उपलब्ध कराई जा रही है।  बैठक में जिला पंचायत सीईओ श्री तीर्थराज अग्रवाल अपर कलेक्टर श्रीमती लीना कोसम संयुक्त कलेक्टर श्री सचिन बोथरा चांपा एसडीएम श्री बजरंग दुबे सहित संबंधित विभागों के अधिकारी उपस्थित थे