घर-परिवार को छोड़ देश के लिए आगे आई स्वाति रावल, इटली में फंसे 263 भारतीयों को वापस लाईं वतन, पीएम ने ट्विटर पर की तारीफ 

घर-परिवार को छोड़ देश के लिए आगे आई स्वाति रावल, इटली में फंसे 263 भारतीयों को वापस लाईं वतन, पीएम ने ट्विटर पर की तारीफ 

कोरोना वायरस का कहर पूरी दुनिया में बढ़ता ही जा रहा है। इसके चलते दुनिया ही नहीं बल्कि पूरे देश में दहशत का माहौल बना हुआ है। सभी अपनी सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए अपने-अपने स्तर पर काम पर रहे है। इसकी वजह से देश में हुए  21 दिन के लॉकडाउन का खासा असर देखने को मिल रहा है। कहीं मन से तो कहीं सख्ती से इस लॉकडाउन का पालन किया जा रहा है। ऐसे में सभी अपनी सुरक्षा के लिए घर पर ही रहने को ही प्राथमिकता दे रहे है। वहीं, महिलाएं भी इन हालातों में अपने घर और घर के लोगों की सुरक्षा और देखरेख में कोई कमी नहीं छोड़ रही है। लेकिन इन सबके बीच कुछ ऐसी भी महिलाएं हैं,जो बच्चे और परिवार की जिम्मेदारी से पहले अपने कर्तव्य का पालन करते हुए देश की सेवा में तत्पर है।

देश सेवा में लगी कैप्टन स्वाति रावल

देश में इस महामारी से बने रहे हालातों के बीच कई महिलाएं ऐसी हैं,जो घर- परिवार से दूर रह कर कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की सेवा में दिन-रात लगी हुई है। इन हालातों के बीच अपने कर्तव्य को निभाती यह महिलाएं किसी हीरो से कम नहीं। अपने कर्तव्य और लोगों की मदद में लगी ऐसी ही एक महिला की खुद देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी तारीफ कर चुके हैं। कोरोना वायरस के कारण दुनिया भर में बन रहे हालात के मद्देनजर विदेश में फंसे देशवासियों को वापस लाने का काम बड़े स्तर पर जारी है। इसी कार्य में अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभाने वाली एयर इंडिया के महिला पायलट कैप्टन स्वाति रावल की काफी सराहना की जा रही है। हाल ही में इटली में फंसे 263 भारतीयों को देश वापस लाने वाली टीम की सदस्य कैप्टन स्वाति रावल की खुद पीएम ने ट्विटर पर तारीफ की।

15 सालों से उड़ा रही हैं विमान 

एयर इंडिया 777 की कमांडर स्वाति एक बच्चे की माँ भी हैं। वह पिछले 15 सालों से विमान उड़ा रही हैं। यह पहली बार नहीं है कि स्वाति रावल चर्चा में हो, इसके पहले भी वह साल 2010 में मुंबई से न्यूयॉर्क जाने वाली एक फ्लाइट का हिस्सा रहीं, जिसकी सभी क्रू मैंबर्स महिलाएं थीं। स्वाति शुरु से ही फाइटर पायलट बनना चाहती थीं, लेकिन 15 साल पहले वायुसेना में महिला लड़ाकू पायलट के लिए कोई जगह नहीं थी। इसी वजह से उन्होने प्लेन उड़ाने के अपने इस सपने को पूरा करने के लिए बतौर कमर्शियल पायलट शुरूआत की। इसी काम को करते हुए स्वाति एयर इंडिया की इस फ्लाइट को इटली की राजधानी रोम से 263 भारतीयों को एयरलिफ्ट कर नई दिल्ली लाई थी।

प्रधानमंत्री ने किया ट्वीट 

उनके इस कार्य के लिए प्रधानमंत्री मोदी ने खुद भी एयर इंडिया के पायलट और क्रू की तारीफ की। प्रधानमंत्री ने ट्वीट किया, “एयर इंडिया की इस टीम पर बेहद गर्व है, जिसने मानवता के लिए बेहद साहस और जज्बा दिखाया है। उनके उत्कृष्ट प्रयासों की भारत भर में कई लोगों ने प्रशंसा की है।” इसके पहले नागरिक विमानन मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने ट्वीटके जरिए इस फ्लाइट का नेतृत्व कर रहीं कैप्टन स्वाति रावल और कैप्टन राजा चौहान के साथ ही पूरे क्रू की तारीफ की।


दुनियाभर में 7 लाख से ज्यादा संक्रमित

दुनियाभर के 199 देशों में फैल चुका कोरोनावायरस थमने का नाम नहीं ले रहा। वायरस से अब तक 33 हजार 993 लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि सात लाख से ज्यादा संक्रमित हैं। वहीं, एक लाख 51 हजार से ज्यादा ठीक हुए हैं। इटली की नेशनल सिविल प्रोटेक्शन एजेंसी के मुताबिक, देश में 24 घंटे में 756 लोगों की मौत हुई है। इसके साथ ही मौतों का आंकड़ा 10,779 हो गया है और संक्रमण के मामले 97 हजार से ज्यादा हो गए हैं। कोरोनावायरस के बढ़ते मामले को देखते हुए सरकार देश में लॉकडाउन की समय सीमा बढ़ा सकती है। इटली में 9 मार्च से 3 अप्रैल तक के लिए लॉकडाउन लगाया गया था। अमेरिका में 24 घंटे में 518 लोगों की मौत हुई है। देश के सबसे ज्यादा प्रभावित न्यूयॉर्क में मौतों का आंकड़ा एक हजार से ज्यादा हो गया है। उधर, ब्रिटेन के डिप्टी चीफ मेडिकल अफसर जेनी हैरीज ने रविवार को चेतावनी दी कि देश में कोरोना दूसरे फेज में है। यहां 6 महीनों का लॉकडाउन लगाया जा सकता है।

 

देश में 1200 पहुंची संख्या

वहीं, देश में कोरोनावायरस के आज 51 नए मामले सामने आए हैं। तमिलनाडु में 17, महाराष्ट्र में 12, मध्यप्रदेश में 8, गुजरात में 6, जम्मू-कश्मीर में 3, आंध्रप्रदेश में 2, जबकि राजस्थान, पंजाब और अंडमान-निकोबार में 1-1 संक्रमित मिले हैं। अब कुल संक्रमितों की संख्या 1200 हो गई है। 32 लोगों की मौत हो चुकी है। ये आंकड़े covid19india.org वेबसाइट के अनुसार हैं। सरकार के आंकड़ों में अभी संक्रमितों की संख्या 1024 ही है। इनमें से 95 ठीक हो गए हैं। बीते दो दिनों में नए मरीजों की संख्या में कुछ कमी देखी जा रही है। सोमवार को 116 नए मामले सामने आए। इससे पहले शनिवार को 143 और शुक्रवार को सबसे ज्यादा 151 रिपोर्ट पॉजिटिव आई थीं।