कोरोना का खौफ: दिल्ली में कर्फ्यू, पुलिस ने खाली कराया शाहीन बाग

कोरोना का खौफ: दिल्ली में कर्फ्यू, पुलिस ने खाली कराया शाहीन बाग

नई दिल्ली: कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई में पूरा देश एक साथ आ गया है. केंद्र और राज्य सरकारें इसके संक्रमण को रोकने के लिए लगातार कड़े कदम उठा रही हैं. पंजाब, महाराष्ट्र, चंडीगढ़, दिल्ली और पुड्डुचेरी में कर्फ्यू लागू कर दिया गया है. इसी के साथ दिल्ली का शाहीन बाग इलाका भी खाली करा दिया गया है. पुलिस ने यहां लगे टेंट भी हटवा दिए हैं.

आपको बता दें कि शाहीन बाग इलाके में बीते तीन महीने से ज्यादा समय से महिलाएं नागरिकता कानून और NRC के विरोध में धरने पर बैठी हुई थीं. हालांकि कोरोना के खौफ के चलते यह इलाका पहले ही काफी हद तक खाली हो गया था. लेकिन अब दिल्ली में कर्फ्यू को देखते हुए पुलिस ने बची-खुची महिलाओं को भी घर भेज दिया है.

पुलिस का कहना है कि कुछ ही देर में कालिंदी कुंज से नोएडा जाने वाला रूट खुल जाएगा. लेकिन  फिलहाल कर्फ्यू और लॉकडाउन के कारण सभी को अनुमति नहीं है. सिर्फ जरूरी काम के लिए निकले लोग ही यहां से आ जा सकते हैं. पुलिस ने कहा कि दिल्ली में चल रहे सभी एंटी CAA प्रदर्शनकारियों को हटा दिया गया है.

पुलिस का कहना है कि दिल्ली के सीलमपुर इलाके में चल रहे प्रदर्शनकारियों को भी हटा दिया गया है. बता दें कि दंगों के बाद दिल्ली के उत्तर पूर्वी जिले में सभी प्रदर्शनकारियों को हटा दिया गया था लेकिन सीलमपुर में अभी भी प्रदर्शन चल रहा था. करीब 15-20 लोग बैठे थे जिन्हें अब हटा दिया गया है. आपको बता दें कि जामिया यूनिवर्सिटी के गेट नंबर 7 पर CAA और NRC के विरोध में बैठे लोग पहले ही प्रदर्शन खत्म कर चुके हैं. इसके अलावा निजामुद्दीन बारापुला के नीचे धरने पर बैठे लोग भी हट गए हैं.

उधर, लखनऊ के घंटाघर के करीब बीते 66 दिनों से CAA, NRC को लेकर जारी महिलाओं का प्रदर्शन भी खत्म हो गया है. सोमवार को महिलाओं ने पुलिस कमिश्नर को लेटर भेज कर कहा कि कोरोना जैसी महामारी और लखनऊ लॉकडाउन होने की वजह से हम अस्थाई रूप से धरना खत्म कर रहे हैं.