छत्तीसगढ़ में आरटीई से स्कूलों में प्रवेश की प्रक्रिया फिर से शुरू, कोरोना के कारण 2 माह से थी बंद

छत्तीसगढ़ में आरटीई से स्कूलों में प्रवेश की प्रक्रिया फिर से शुरू, कोरोना के कारण 2 माह से थी बंद

रायपुर। शिक्षा का अधिकारी (आरटीई) से जिन्हें सीटें आबंटित की गई, उन सीटों पर एडमिशन के लिए संबंधित स्कूलों में दस्तावेजों का परीक्षण करना होगा। प्रवेश के लिए फिर से प्रक्रिया शुरू हो चुकी है। इस संबंध में शिक्षा विभाग से नोडल सेंटरों और संबंधित स्कूलों को पत्र भेजा गया है। आरटीई से प्रवेश के पहले चरण में जुलाई में सीटें बंटी थी। लेकिन इन सीटों पर प्रवेश अगस्त तक नहीं हुआ था। शिक्षा विभाग के अफसरों का कहना है कि जिन्हें सीटें आबंटित की गई है, वे संबंधित स्कूल में जाकर दस्तावेज परीक्षण करा सकते हैं। इसके आधार पर उनका प्रवेश होगा।

इसके तहत कुछ दिनों तक प्रक्रिया चलेगी। इसके बाद निजी स्कूलों से उपलब्ध सीटों की जानकारी मांगी जाएगी। इसके अनुसार दूसरे चरण में सीटों आबंटन होगा। दूसरे चरण के तहत इस महीने ही लॉटरी हो सकती है। इसके लिए आवेदन मंगाए जा रहे हैं। गौरतलब है कि राज्य के प्राइवेट स्कूलों में आरटीई की कुल 81460 सीटें हैं। पहले चरण में तहत करीब 78 हजार सीटें आबंटित की गई। कई सीटों का आबंटन लॉटरी के माध्यम हुआ। जबकि कई सीटें आवेदन के आधार पर ही बांट दी गई, क्योंकि वहां उपलब्ध सीटों की तुलना में फार्म कम मिले थे। अफसरों का कहना है कि दूसरे चरण में भी जहां सीटों की उपलब्धता से कम आवेदन आएंगे वहां सीधे सीटें आबंटित की जाएगी।