कोरोना से लड़ाई के बीच छत्तीसगढ़ को NMDC से मिला 200 करोड़ का एडवांस पेमेंट, CMD एन बैजेंद्रकुमार ने ट्वीट कर कहा- ‘इस कठिन वक्त में हम खड़े हैं साथ’

कोरोना से लड़ाई के बीच छत्तीसगढ़ को NMDC से मिला 200 करोड़ का एडवांस पेमेंट, CMD एन बैजेंद्रकुमार ने ट्वीट कर कहा- ‘इस कठिन वक्त में हम खड़े हैं साथ’

रायपुर– कोरोना वायरस की महामारी के बीच नेशनल मिनरल डेवलपमेंट कार्पोरेशन ने छत्तीसगढ़ सरकार को दो सौ करोड़ रूपए की रायल्टी का एडवांस पेमेंट कर दियाहै.

नएमडीसी ने राज्य को दिए जाने वाले इस एडवांस पेमेंट को उस वक्त भेजा है, जब सरकार कोरोना महामारी से जूझ रही है. ऐसे नाजुक दौर में सरकार के कोष में आने वाली इस बड़ी राशि से स्वास्थ्य के क्षेत्र में बेहतर काम किए जा सकेंगे.

एनएमडीसी चेयरमेन एन बैजेंद्र कुमार ने ट्वीट कर यह जानकारी साझा की है. उन्होंने अपने ट्वीट के जरिए लिखा है कि-इस कठिन वक्त में कोविड 19 के खिलाफ राज्य सरकार की इस लडा़ई में हम मजबूती के साथ खड़े हैं.

देश की नवरत्न कंपनी एनएमडीसी ने कोरोना वायरस के संक्रमण से लड़ने के लिए 150 करोड़ रुपए दान किए हैं। इन रुपयों को पीएम केयर फंड में जमा किए गया है। वहीं कंपनी अपने कर्मचारियों को भी एक माह के वेतन के साथ एक हजार रुपए का अतिरिक्त योगदान इस संक्रमण से लड़ने के लिए देगी। दंतेवाड़ा की आदिवासी महिलाओं के सहयोग से बनाए गए मास्क और सेनेटाइजर का वितरण भी कंपनी की ओर से किया जा रहा है।


एनएमडीसी के अध्यक्ष सह प्रबंध-निदेशक एन बैजेंद्र कुमार बताया कि एनएमडीसी की ओर से एक छोटा सा योगदान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अपील पर देशहित में किया गया है। एनएमडीसी ने 150 करोड़ रुपए की राशि का अंशदान पीएम केयर फंड में किया है। इस अंशदान से बेहतर चिकित्सा और स्वास्थ्य सेवाओं के साथ देश को मौजूदा कोरोना संकट से उबारने में मदद मिलेगी।

इससे पहले एनएमडीसी ने अपने सभी अधिकारियों-कर्मचारियों समेत सभी सलाहकार, अनुबंधित अधिकारी- कर्मचारी और श्रमिकों को मार्च माह का वेतन के साथ एक हजार रुपए अतिरिक्त देने का निर्णय लिया है। इसके अलावा दंतेवाड़ा की आदिवासी महिला समूहों के जरिए बनाए गए मास्क और सेनिटाइजर का कंपनियों के कर्मचारियों और अन्य जरूरतमंदों के बीच बांटा जा रहा है। इससे जहां लोगों को संक्रमण से निपटने में सहायता मिल रही है, वहीं महिलाओं की आय में भी इजाफा हुआ है।