छत्तीसगढ़ राज्य युवा महोत्सव 2020 में दिखी युवाओ की प्रतिभा और बढ़ते कल की झलक

छत्तीसगढ़ राज्य युवा महोत्सव 2020 में दिखी युवाओ की प्रतिभा और बढ़ते कल की झलक

रायपुर. राज्य स्तरीय युवा महोत्सव के दूसरे दिन आज यहां राजधानी रायपुर के पंडित दीनदयाल उपाध्याय ऑडिटोरियम में राज्य के युवाओं ने अपनी अद्भुत प्रतिभा का प्रदर्शन किया। युवाओं ने हिन्दुस्तानी शास्त्रीय नृत्य शैली में कत्थक, ओडिसी, कुचिपुड़ी, मणिपुरी, भरतनाट्टयम का शानदार प्रदर्शन किया। पौराणिक कथाओं के उम्दा प्रदर्शन को देखकर उपस्थित दर्शक रोमांचित हुए। कलाकारों के शास्त्रीय नृत्यों, गजब के ताल एवं तकनीक तथा अभिनय भाव मुद्रा, वेशभूषा और संगीत के साथ कदमचालन सहित कला की सभी खूबियां देखी गई।

शास्त्रीय नृत्य कत्थक में बेमेतरा के बंटी खत्री, रायपुर की किरण साहू , रायगढ़ की रजनी परमार और गरियाबंद की बबीता के अच्छे प्रदर्शन से दर्शक केन्द्रित रहे, वहीं ओडिसी नृत्य में बेमेतरा, बिलासपुर, दंतेवाड़ा जशपुर, कांकेर, कोरिया, रायगढ़, राजनांदगांव और सरगुजा के युवा कलाकारों ने पौराणिक धार्मिक गाथाओं पर आधारित नृत्य प्रस्तुत किए, जिससे दर्शक एकचित्त रहकर नृत्य शैली को निहारते रहे। मणिपुरी नृत्य में बेमेतरा की यशस्वी साहू ने विष्णु के दशावतार, बलौदाबाजार की आंचल ने श्रीकृष्ण लीलाओं और कोरिया के दीपक कुमार ने विष्णु भगवान की क्षीरसागर की लीलाओं पर आधारित नृत्य किया।

yuva-mahostav-2

कुचिपुड़ी नृत्य में रायपुर की वर्षा, वेनुगोपाल ने महाभारत के प्रसंग कीचक वध पर आधारित नृत्य किया, जिसे देखकर दर्शक रोमांचित रहे। कोरिया के कृष्ण कुमार ने भी कई पौराणिक भाव भंगिमा पर नृत्य किए। इसी तरह से प्रदेश के बालोद, बलौदाबाजार, बलरामपुर, बेमेतरा, बीजापुर, बिलासपुर, धमतरी, दुर्ग, कोरबा, महासमुंद, रायगढ़, सुकमा, सूरजपुर और सरगुजा जिला के कलाकारों ने सुमधुर बांसुरी वादन किया।

शास्त्रीय नृत्य प्रतियोगिताओं में ओडिसी में दंतेवाड़ा को प्रथम, बेमेतरा और राजनांदगांव को द्वितीय तथा सरगुजा को तृतीय स्थान मिला। कुचिपुडी में रायपुर को प्रथम, दुर्ग को द्वितीय और कोरिया को तीसरा स्थान प्राप्त हुआ। इसी तरह से मणिपुरी में बेमेतरा को प्रथम, बलौदाबाजार को द्वितीय तथा कोरिया को तृतीय स्थान प्राप्त हुआ है। इसी तरह से कत्थक में महासमुंद और बेमेतरा, राजनांदगांव और रायपुर को द्वितीय तथा बिलासपुर और रायगढ़ को तृतीय स्थान प्राप्त हुआ है। इसी तरह बांसुरी वादन में राजनांदगांव और कोरिया को प्रथम, द्वितीय स्थान पर धमतरी और कोरबा और तृतीय स्थान पर रायगढ़ रहा, वेशभूषा में कोण्डागांव और बस्तर जिला को प्रथम, द्वितीय स्थान पर दंतेवाड़ा और बलौदाबाजार तथा दुर्ग और धमतरी को संयुक्त रूप से तृतीय स्थान मिला। भरतनाट्यम में रायपुर प्रथम, कांकेर द्वितीय और राजनांदगांव तृतीय स्थान पर रहा।