रायपुर : छत्तीसगढ़ के उत्पादों का ’सी-मार्ट में होगा विक्रय

रायपुर : छत्तीसगढ़ के उत्पादों का ’सी-मार्ट में होगा विक्रय

छत्तीसगढ़ के उत्पादकों द्वारा उत्पादित उपभोक्ता सामग्री के विक्रय के लिए राजधानी सहित छत्तीसगढ़ के शहरों एवं जिलों में छत्तीसगढ़ सरकार सी-मार्ट की स्थापना करेगी। इन सी मार्ट की स्थापना का प्रमुख उद्ेश्य छत्तीसगढ़ के उद्यमियों, स्व-सहायता समूहों और स्थानीय उत्पादकों को फायदा पहुंचाने एवं उन्हें व्यवसाय के लिए प्रेरित करना है। मुख्य सचिव श्री अमिताभ जैन की अध्यक्षता में सी-मार्ट की स्थापना के संबंध में उच्च अधिकार प्राप्त हाई पावर कमेटी की पहली बैठक आज यहां मंत्रालय महानदी भवन में सम्पन्न हुई।

मुख्य सचिव ने बैठक में कहा कि मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल की मंशानुसार छत्तीसगढ़ में उत्पादित उपभोक्ता प्रोड्क्टस को एक ही छत के नीचे विक्रय करने के लिए सी-मार्टस की स्थापना की जा रही है। इसके लिए राज्य के विभिन्न जिलों में सी-मार्ट के लिए जगह चिन्हित करने एवं डिजाईन तैयार करने के लिए मुख्य सचिव ने विभागीय अधिकारियों को व्यापक निर्देश दिए है। सी मार्ट स्थापना के लिए नोडल विभाग वाणिज्य एवं उद्योग विभाग है। इसमें छत्तीसगढ़ लघु वनोपज संघ की भूमिका महत्वपूर्ण होगी। हाई पावर कमेटी की बैठक में सी-मार्ट की स्थापना, प्रोडक्ट्स की ब्रांडिंग, मार्केटिंग, वेयर हाउसिंग, फ्रेंचाईजी और अन्य तथ्यों पर विस्तार से चर्चा की गई।

वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए हुई इस बैठक में पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग की अपर मुख्य सचिव श्रीमती रेणु जी पिल्ले, ग्रामोद्योग विभाग के प्रमुख सचिव डॉ. आलोक शुक्ला, वाणिज्य एवं उद्योग विभाग के प्रमुख सचिव श्री मनोज पिंगुआ, आदिम जाति तथा अनुसूचित जाति विकास विभाग के सचिव श्री डी.डी.सिंह, कृषि एवं किसान कल्याण एवं जैव प्रौद्योगिकी विभाग के सचिव डॉ. कमलप्रीत सिंह, खनिज विभाग के सचिव श्री सिद्वार्थ कोमलसिंह परदेशी, नगरीय प्रशासन विभाग की सचिव श्रीमती अलरमेल मंगई डी., सचिव मुख्यमंत्री डॉ. एस. भारतीदासन एवं छत्तीसगढ़ राज्य लघु वनोपज संघ के प्रबंध संचालक डॉ. संजय शुक्ला सहित अन्य अधिकारी मौजूद थे।