छत्तीसगढ़ पुलिस के 11 जांबाज शूरवीर सम्मान से सम्मानित

छत्तीसगढ़ पुलिस के 11 जांबाज शूरवीर सम्मान से सम्मानित

गृहमंत्री ताम्रध्वज साहू ने कहा है कि राज्य में सड़कों के विकास से पर्यटन का दायरा बढ़ रहा है। नक्सल प्रभावित जिलों में विकास के लिए स्कूल, स्टील के पुल, बिजली इत्यादि मूलभूत कार्य संपन्न किए जा रहे हैं जिसके फलस्वरूप नक्सली घटनाओ में लगातार कमी आयी है। श्री साहू ने मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल के द्वारा नक्सली इलाकों के लिए दिए गए सूत्र वाक्य “विश्वास, विकास, सुरक्षा” की चर्चा करते हुए कहा कि राज्य शासन के पुनर्वास नीति से प्रभावित होकर विगत 3 वर्षों में लगभग 02 हजार माओवादियों ने आत्मसमर्पण कर समाज की मुख्य धारा में शामिल होना स्वीकार किया है।

गृहमंत्री श्री साहू ने राज्य में उत्कृष्ट कार्य करने वाले जाबांज पुलिस जवानों को सम्मानित करने के लिए आयोजित एक कार्यक्रम में कहा कि पुलिस को इमानदारी से अपना काम करना चाहिए ताकि आम जनता में उनके प्रति सम्मान दिखे और अपराधियों के मन में पुलिस का भय हो। श्री साहू ने आरक्षक से लेकर टीआई रैंक तक के 11 जाबांज पुलिस जवानों को शूरवीर सम्मान से सम्मानित किया। सम्मानित पुलिस जवानों में उप निरीक्षक श्री जाकिर अली, महिला आरक्षक श्रीमती मनीषा यादव, सहायक उप निरीक्षक श्री भूपेश सिंह, प्रधान आरक्षक श्री संदीप दीक्षित, प्रधान आरक्षक श्री सरफराज चिश्ती, निरीक्षक श्री रमन उसेण्डी, उपर निरीक्षक श्रीमती दीपिका निर्मलकर, सहायक उपनिरीक्षक श्री मनोज राठौर, प्रधान आरक्षक श्री सुशील पांडे, निरीक्षक श्री विजय चेलक, तथा निरीक्षक श्री सुमतराम साहू शामिल थे। इस मौके पर संसदीय सचिव श्री विकास उपाध्याय भी उपस्थित थे।