9वीं में एडमिशन प्रक्रिया शुरू, 15 जुलाई से निजी स्कूलों में मिलेगा एडमिशन

9वीं में एडमिशन प्रक्रिया शुरू, 15 जुलाई से निजी स्कूलों में मिलेगा एडमिशन

रायपुर | प्रदेश सरकार द्वारा चलाए जा रहे शिक्षा के अधिकार के तहत इस बार नवमीं कक्षा में दाखिले की प्रक्रिया शुरू हो गई है। इस बार पिछले साल से ज्यादा बच्चों को निजी स्कूलों में दाखिला करवाया जाएगा। 15 जुलाई से बच्चों को दाखिले करवाने के लिए जिला शिक्षा विभाग ने संकुलों से ब्यौरा मांगा है। खास बात यह है कि आठवी कक्षा तक संचालित स्कूलों के बच्चों को तीन किलोमीटर के दायरे वाले स्कूलों में प्रवेश दिलाएंगे और इससे ज्यादा दूरी वालों को नए सरकारी इंग्लिश मीडियम स्कूलों में प्रवेश करवाएंगे। 15 जुलाई से दाखिले की प्रक्रिया शुरू करने की तैयारी है। आठवीं पढ़ने वाले 475 बच्चों को नवमी में  प्रवेश करवाया जा रहा है।

आवेदन की जरूरत नहीं विभाग करवाएगा दाखिला

नवमी में आरटीई के तहत दाखिला करवाने के लिए जिला शिक्षा विभाग कोई आवेदन नहीं मंगवाएगा। कोरोना के चलते यह निर्णय लिया गया है। विभाग ने सभी नोडलों में गाइडलाइन जारी किया है कि वे अपने-अपने नोडलों के भीतर आठवी उत्तीर्ण बच्चों की संख्या भेजेंगे। जिला शिक्षा अधिकारी उन बच्चों को दाखिला देने का सीधे आदेश जारी करेंगे।

एक बच्चे को पढ़ाएंगे तो 15 हजार रुपए की फीस

नवमी कक्षा में गरीब वर्ग के बच्चों को आरटीई के तहत शिक्षा देने के एवज में निजी स्कूलों का शिक्षण शुल्क प्रदेश सरकार देगी। एक बच्चे को पढ़ाने के लिए सालभर में 15 हजार रुपये मिलेंगे। पालकों को कापी-किताब, यूनिफार्म का इंतजाम खुद करना है। केंद्र सरकार द्वारा आरटीई के तहत नि:शुल्क अनिवार्य शिक्षा आठवी तक ही की गई है।

जानिए कब तक होगी ऑनलाइन स्कूलों में पढ़ाई शुरू

कोरोना काल की वजह से शैक्षणिक संस्थान खुल नहीं रहे हैं और पालक अपने बच्चों की पढ़ाई और दाखिले के लिए चिंतित हैं। नवमी कक्षा में आरटीई के तहत दाखिले की प्रक्रिया 15 जुलाई से शुरू हो रही है। 31 जुलाई तक इन बच्चों को निजी स्कूलों में प्रवेश करवाया जाएगा। एक अगस्त से इन बच्चों की ऑनलाइन पढ़ाई भी शुरू कर दी जाएगी।